शॉकिंग:- 31 मार्च तक कर्मचारियों के PF की घोषणा नहीं की तो अप्रैल से कार्रवाई

देश में अधिक से अधिक कर्मचारियों को पीएफ की सामाजिक सुरक्षा का लाभ देने के मकसद से भविष्य निधि संगठन ने एक जनवरी से कर्मचारी नामांकन घोषणा योजना लांच की। उदयपुर भविष्य निधि कार्यालय के तहत आने वाले जिलों में से अब तक 197 कंपनियों ने अपने 2500 कर्मचारियों का पीएफ घोषित किया है। उदयपुर के क्षेत्रीय आयुक्त धनवंत सिंह ने बताया कि विभाग की यह योजना 31 मार्च तक लागू रहेगी। इसके बाद विभाग कंपनियों पर कार्रवाई शुरू करेगा।
गौरतलब है कि योजना के तहत जो कर्मचारी किसी कारण से पीएफ नहीं जमा करा सके वे पीएफ जमा करा सकते हैं। नियमानुसार नियोक्ता को पीएफ राशि के साथ ब्याज भी जमा कराना होगा। लेकिन उसे पेनॉल्टी (25 प्रतिशत तक) में छूट मिलेगी। योजना के तहत कर्मचारी नामांकन की घोषणा विभाग की साइट पर ऑनलाइन करनी होगी। इसके बाद 15 दिनों के अंतराल में राशि भी जमा करानी होगी।
वेब से आप विभिन्न प्राप्त कर सकते हैं
जनरल नॉलेज, गुजरात पूरी तरह से सामान्य ज्ञान, अंग्रेजी व्याकरण, गुजराती व्याकरण, गुजराती साहित्य, गणित, विज्ञान और अन्य अधिक सामग्री की तरह संबंधित,
जब हम नियमित रूप से अपने विचारों या सूचनाओं को वेबसाइट के माध्यम से लोगों तक पहुंचाते है तो इस प्रक्रिया को Blogging कहते है और उस वेबसाइट को blog कह सकते है |
आज जिन्दगी ऑनलाइन हो गयी है| आज करीब 100 करोड़ से भी ज्यादा वेबसाइट एंव ब्लॉग मौजूद है| सीधे शब्दों में ब्लॉग अपनी आवाज को पूरी दुनिया तक पहुँचाने का एक मंच है|

व्यापारी, लेखक, कवि, पत्रकार, संगीतकार, खिलाड़ी, शिक्षक, डॉक्टर, कर्मचारी, विद्यार्थी या फिर चाहे कोई भी व्यक्ति हो जो दुनिया से जुड़ना चाहता है वो अपना Blog या Website सकता है और अपने विचारों को दुनिया तक पहुंचा सकता है|

उदाहरण के लिए अगर किसी का होटल का व्यवसाय है तो वह अपने होटल की वेबसाइट बना सकता है जिसमें वह अपने होटल के बारे में जानकारी दे सकता है और ऑनलाइन बुकिंग की सुविधा भी प्रदान कर सकता 
योजना के तहत नियोक्ताओं 2009 से 2016 के बीच नियुक्त हुए कर्मचारियों ने यदि किसी कारण से नियोक्ता पीएफ नहीं जमा करा सके तो अब बकाया पीएफ राशि की घोषणा कर सकते है। उसे केवल अपना शेयर ही जमा कराना होगा। यदि नियोक्ता ने कर्मचारी से बराबर शेयर लिया तो उसे कर्मचारी व अपना दोनों ही शेयर विभाग को ब्याज सहित देने होंगे। पीएफ विभाग की योजना के तहत मार्च 2017 के नियोक्ता बकाया पीएफ की घोषणा कर सकते हैं। मार्च के बाद विभाग नियोक्ता पर कानूनी कार्रवाई, ब्याज व पेनॉल्टी वसूल करेगा।

No comments:

Get Update By Email